Medicine

Pregnidoxin NU Tablet in Hindi – प्रेग्नीडोक्सीन एन टैबलेट के उपयोग, फायदे, खुराक, सावधानियां तथा साइड इफेक्ट? |Pregnidoxin NU Tablet – Uses, Best Benefits, Dosage Precautions, Side effects in Hindi

Pregnidoxin NU Tablet in Hindi – प्रेग्नीडोक्सीन एन टैबलेट के उपयोग, फायदे, खुराक, सावधानियां तथा साइड इफेक्ट? |Pregnidoxin NU Tablet – Uses, Best Benefits, Dosage Precautions, Side effects in Hindi

प्रेग्नीडोक्सीन एन टैबलेट(Pregnidoxin NU Tablet) – उपयोग, फायदे, खुराक, सावधानियां तथा साइड इफेक्ट

अगर हमारे शरीर में विटामिन की कमी हो जाए, तो उसके कारण हमें बहुत सी समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है। खासतौर पर अगर बचपन में या फिर बढ़ती उम्र में शरीर में विटामिन की कमी हो जाए, तो इसके कारण शरीर की प्रतिरक्षा प्रणाली पर भी काफी फर्क पड़ता है और धीरे-धीरे व्यक्ति कमजोर होने लगता है, इसीलिए हमें भरपूर मात्रा में पोषक तत्व का सेवन करना पड़ता है। परंतु उम्र बढ़ने के साथ-साथ अपने जीवन में बहुत ज्यादा व्यस्त हो जाते हैं, जिसके कारण वह अपने खान-पान पर ध्यान नहीं देते और उन्हें स्वास्थ्य संबंधित बहुत सी बीमारियां अपना शिकार बना लेती है।

हमारे शरीर के लिए विटामिन बहुत ही जरूरी होते हैं क्योंकि यह शारीरिक गतिविधियों के लिए भी आवश्यक होते हैं। आज हम आपको एक ऐसी दवाई के बारे में बताने जा रहे हैं, जो हमारे शरीर में Vitamin B6 की कमी को पूरा करने के साथ-साथ और भी बहुत सी बीमारियों में ही लाभदायक साबित होती है। इस दवाई का नाम Pregnidoxin NU Tablet है। आज हम इसी के बारे में बात करेंगे कि :-

Pregnidoxin NU Tablet in Hindi – प्रेग्नीडोक्सीन एन टैबलेट के उपयोग, फायदे, खुराक, सावधानियां तथा साइड इफेक्ट? |Pregnidoxin NU Tablet – Uses, Best Benefits, Dosage Precautions, Side effects in Hindi

Pregnidoxin NU Tablet क्या है – What Is Pregnidoxin NU Tablet In Hindi ?

यह दवाई मुख्य रूप से डॉक्टर के द्वारा दी जाती हैं, प्रेग्नीडोक्सीन एन टैबलेट दवाई सभी मेडिकल स्टोर पर उपलब्ध रहती है। Pregnidoxin NU Tablet Tablet को बहुत सी बीमारियों के उपचार के लिए इस्तेमाल किया जाता है, मुख्य तौर पर तो इस दवाई को Vitamin B6 की कमी को पूरा करने के लिए इस्तेमाल किया जाता है।

इसके अतिरिक्त और भी बहुत सी बीमारियां हैं जिनमें Pregnidoxin NU Tablet Tablet हमारे लिए काफी ज्यादा फायदेमंद रहती है। अगर किसी व्यक्ति को उल्टियां लगी हुई है या फिर बहुत ज्यादा थकान महसूस हो रही है, तो इस प्रकार की समस्याओं में भी यह दवाई काफी फायदेमंद रहती हैं। परंतु इस दवाई को डॉक्टर के द्वारा ही मरीज को दिया जाता है, क्योंकि Pregnidoxin NU Tablet Tablet के बहुत से साइड-इफेक्ट भी हो सकते हैं।

Pregnidoxin NU Tablet  में कौन सी सामग्री होती है – Active Ingredient In Pregnidoxin NU Tablet Medicine In Hindi ?

  • इस दवाई में मुख्य रूप से दो तरह की सामग्रियां होती हैं, जैसे कि Doxylamine Succinate तथा Pyridoxine Hydrochloride IP, यह दोनों सामग्रियां है अलग-अलग महत्व रखती हैं।
  • Doxylamine Succinate सामग्री एक एंटीहिस्टामाइन सामग्री है, जो की एलर्जी पैदा करने वाले प्राकृतिक रसायनिक रिसेप्टर को खत्म करती है।
  • Pyridoxine Hydrochloride IP सामग्री विटामिन बी6 होती है, जो कि हमारे शरीर में विटामिन बी6 की कमी को पूरा करती है।
  • यह सामग्रियां इस दवाई के अतिरिक्त और भी बहुत सी दवाइयों में इस्तेमाल की जाती है। खासतौर पर जो दवाइयां विटामिन बी6 की कमी को पूरा करती हैं उनमें तो Pyridoxine Hydrochloride IP सामग्री को इस्तेमाल किया जाता है।

Pregnidoxin NU Tablet दवाई के फायदे – Benefits Of Pregnidoxin NU Tablet Medicine In Hindi ?

प्रेग्नीडोक्सीन एन टैबलेट दवाई के बहुत से फायदे हैं जैसे कि :-

  • मुख्य तौर पर तो यह दवाई डॉक्टर के द्वारा मरीज को उसके शरीर में विटामिन बी6 की कमी को पूरा करने के लिए दी जाती है, लेकिन इसके अतिरिक्त Pregnidoxin NU Tablet Medicine और बीमारियों में फायदेमंद साबित होती है।
  • अगर किसी व्यक्ति को बहुत ज्यादा थकान महसूस हो रही है, तो इस समस्या में भी प्रेग्नीडोक्सीन एन टैबलेट दवाई डॉक्टर के द्वारा दी जा सकती है।
  • अगर किसी व्यक्ति को उल्टियां लगी हुई है और चक्कर आ रहे हैं, तो इस परिस्थिति में भी Pregnidoxin NU Tablet दवाई डॉक्टर के द्वारा दी जा सकती है।
  • बहुत से लोग जब सुबह सोकर उठते हैं तो उन्हें बहुत ज्यादा थकान महसूस होती है, तो इस समस्या में भी प्रेग्नीडोक्सीन एन टैबलेट दवाई का इस्तेमाल किया जा सकता है।
  • अगर किसी व्यक्ति को एलर्जी हो रही है, तो एलर्जी की समस्या में भी प्रेग्नीडोक्सीन एन टैबलेट दवाई फायदेमंद रहती है।
  • बहुत से लोगों को नींद ना आने की बीमारी भी होती है। इस प्रकार की समस्याओं में भी प्रेग्नीडोक्सीन एन टैबलेट दवाई का सेवन किया जा सकता है। प्रेग्नीडोक्सीन एन टैबलेट दवाई को खाने के पश्चात व्यक्ति की नींद ना आने की समस्या दूर हो जाती है।
  • किसी भी प्रकार का तंत्रिका विकार होने पर भी प्रेग्नीडोक्सीन एन टैबलेट दवाई का सेवन किया जा सकता है।
  • जिन लोगों के शरीर में किसी बीमारी की वजह से कमी आ जाती है और उन्हें काफी ज्यादा थकान रहती है, तो उन्हें भी डॉक्टर के द्वारा प्रेग्नीडोक्सीन एन टैबलेट दवाई दी जा सकती है।

Pregnidoxin NU Tablet दवाई की खुराक – Dossage Of Pregnidoxin NU Tablet Medicine In Hindi ?

Pregnidoxin NU Tablet Tablet की खुराक डॉक्टर के द्वारा ही व्यक्ति की आयु, लिंग तथा पिछली स्वास्थ्य संबंधी बीमारियों को ध्यान में रखते हुए निर्धारित की जाती है। हम आपको बता दें कि, डोक्सिनेट टेबलेट की खुराक डॉक्टर के द्वारा जिस प्रकार निर्धारित की जाती है आपको बिल्कुल वैसे ही दवाई की खुराक का सेवन करना होता है, क्योंकि इस दवाई के फायदों के साथ-साथ बहुत से नुकसान भी हैं, जो आपके लिए जानलेवा साबित हो सकते हैं, इसीलिए Pregnidoxin NU Tablet Tablet की खुराक में कोई भी बदलाव ना करें।

Pregnidoxin NU Tablet  का इस्तेमाल कैसे किया जाता है – How To Use Pregnidoxin NU Tablet In Hindi ?

Pregnidoxin NU Tablet  का इस्तेमाल कैसे किया जाता है – How To Use Pregnidoxin NU Tablet In Hindi ?

  • Pregnidoxin NU Tablet Tablet का इस्तेमाल अलग-अलग रूपों में अलग हिसाब से होता है, जैसे कि प्रेग्नीडोक्सीन एन टैबलेट दवाई टेबलेट तथा सिरप के रूप में मिलती है। इसीलिए दोनों ही रूपों में प्रेग्नीडोक्सीन एन टैबलेट दवाई का इस्तेमाल भी अलग तरीके से होता है, जैसे कि यदि आप प्रेग्नीडोक्सीन एन टैबलेट दवाई की टेबलेट तथा कैप्सूल का इस्तेमाल कर रहे हैं, तो आप इन्हें पानी के साथ निंगल सकते हैं।
  • यदि आप दवाई की सिरप का सेवन कर रहे हैं, तो आपको प्रेग्नीडोक्सीन एन टैबलेट दवाई की सिरप का सेवन करने से पहले बोतल को अच्छी तरह हिला लेना है, ताकि दवाई अच्छे से मिक्स हो जाए, फिर उसके पश्चात उसका सेवन करना है और फिर बोतल को अच्छे से बंद करके थोड़े से ठंडे स्थान पर रखना है।

Pregnidoxin NU Tablet  के नुकसान – Side – Effect Of Pregnidoxin NU Tablet In Hindi ?

Pregnidoxin NU Tablet के बहुत से साइड इफेक्ट हो सकते हैं जैसे कि :-

  • प्रेग्नीडोक्सीन एन टैबलेट की ओवरडोज खाने की स्थिति में व्यक्ति को बहुत ज्यादा घबराहट भी हो सकती है और मतिभ्रम की समस्या भी हो सकती है।
  • प्रेग्नीडोक्सीन एन टैबलेट का अधिक मात्रा में सेवन करने से व्यक्ति को अधिक मात्रा में पसीना भी आ सकता है और बहुत ज्यादा गुस्सा भी आ सकता है।
  • प्रेग्नीडोक्सीन एन टैबलेट के नुकसान स्वरूप व्यक्ति को यूरीन रिटेंशन नामक रोग भी हो सकता है। इसी के साथ-साथ गाढ़े रंग का पेशाब भी आ सकता है।
  • Pregnidoxin NU Tablet के अधिक सेवन से नुकसान स्वरूप व्यक्ति की दिल की धड़कनें भी बढ़ सकती हैं। खास तौर पर दिल के रोगी को तो हार्ट अटैक भी आ सकता है।
  • प्रेग्नीडोक्सीन एन टैबलेट के साइड इफेक्ट के कारण व्यक्ति को त्वचा संबंधित बीमारियां भी हो सकती हैं। त्वचा संबंधित बीमारियां जैसे की त्वचा पर लाल चकते हो जाना, या फिर त्वचा पर काफी ज्यादा खुजली होना।
  • प्रेग्नीडोक्सीन एन टैबलेट के नुकसान स्वरूप है, कि को सांस लेने में भी तकलीफ हो सकती है।
  • प्रेग्नीडोक्सीन एन टैबलेट के साइड इफेक्ट के कारण आपके चेहरे, होंठ तथा गले के आसपास सूजन भी आ सकती है।
  • Pregnidoxin NU Tablet को गर्भवती महिलाओं को गर्भधारण के शुरुआती दिनों में लेने की सलाह नहीं दी जाती। इसलिए डॉक्टर को पहले ही सूचित कर दें कि आप गर्भवती हैं।
  • अगर आपको Pregnidoxin NU Tablet का सेवन करने के पश्चात कुछ ही पलों में साइड इफेक्ट का कोई भी लक्षण महसूस होता है, तो तुरंत ही अपने नजदीकी डॉक्टर को सूचित करें।
  • प्रेग्नीडोक्सीन एन टैबलेट शरीर में विटामिंस की कमी को पूरा करने के लिए होती है, इसीलिए प्रेग्नीडोक्सीन एन टैबलेट दवाई के साथ विटामिंस की कमी को पूरा करने के लिए अन्य दवाइयों का सेवन ना करें।
  • अगर कोई व्यक्ति मोटे पतले होने की दवाइयां खा रहा है, तो फिर वे लोग भी दवाई का सेवन ना करें।
  • जो लोग डिप्रेशन में है या फिर शराब का सेवन अधिक करते हैं, तो उन लोगों को भी Pregnidoxin NU Tablet का सेवन करने की सलाह नहीं दी जाती।
  • जो लोग धूम्रपान अधिक करते हैं वह भी एक बात समझ ले कि जब आप प्रेग्नीडोक्सीन एन टैबलेट का सेवन करते हैं, तो उन दिनों आपको धूम्रपान छोड़ देना चाहिए।
  • जब आप प्रेग्नीडोक्सीन एन टैबलेट दवाई को डॉक्टर के बताया अनुसार किसी भी मेडिकल स्टोर से खरीदते हैं, तो प्रेग्नीडोक्सीन एन टैबलेट दवाई को खरीदते समय एक्सपायरी डेट हमेशा चेक करें।
किन बीमारियों में Pregnidoxin NU Tablet  का सेवन नहीं करना चाहिए – Which Diseases Should Not Take Pregnidoxin NU Tablet In Hindi
image source :- https://www.canva.com/

किन बीमारियों में Pregnidoxin NU Tablet  का सेवन नहीं करना चाहिए – Which Diseases Should Not Take Pregnidoxin NU Tablet In Hindi ?

  • अगर किसी व्यक्ति को लीवर से संबंधित बीमारी है, तो उसे प्रेग्नीडोक्सीन एन टैबलेट दवाई का सेवन बिल्कुल भी नहीं करना चाहिए।
  • जिन लोगों के शरीर की प्रतिरक्षा प्रणाली बहुत कमजोर है, उन्हें भी Pregnidoxin NU Tablet का सेवन करने की सलाह नहीं दी जाती। आमतौर पर वह लोग जो बहुत ही समय से किसी गंभीर बीमारी से पीड़ित थे, वह यदि प्रेग्नीडोक्सीन एन टैबलेट दवाई का सेवन करते हैं तो उन्हें साइड इफेक्ट हो सकता है।
  • दिल से संबंधित बीमारियों के रोगियों को भी प्रेग्नीडोक्सीन एन टैबलेट का सेवन करने की सलाह नहीं दी जाती।
  • जिन लोगों को मिर्गी के दौरे पड़ते हैं, तो उन्हें भी प्रेग्नीडोक्सीन एन टैबलेट दई का सेवन करने की सलाह बिल्कुल भी नहीं दी जाती।
  • अगर किसी शुगर के मरीज के शरीर में ब्लड शुगर की मात्रा नियंत्रित नहीं रहती, तो उसे भी प्रेग्नीडोक्सीन एन टैबलेट का सेवन नहीं करना चाहिए।

Pregnidoxin NU Tablet Conclusion :-

हम उम्मीद करते हैं कि आपको Pregnidoxin NU Tablet Uses In Hindi से संबंधित हमारी यह पोस्ट पसंद आई होगी। इस पोस्ट के माध्यम से आपको Benefits of Pregnidoxin NU Tablet In Hindi तथा Dossage Of Pregnidoxin NU Tablet In Hindi के बारे में बताया है। इसी के साथ हमने आप लोगों को Uses Of Pregnidoxin NU Tablet In Hindi के बारे में भी बताया है, अगर अभी भी आपको हमसे Pregnidoxin NU Tablet Ke Fayde से संबंधित कोई प्रश्न पूछना है तो कमेंट सेक्शन में कमेंट करें। धन्यवाद

User Rating: 4.6 ( 1 votes)

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button